लाइफस्टाइलSynthetic milk: सफेद जहर तो नहीं पी रहे आप,...

Synthetic milk: सफेद जहर तो नहीं पी रहे आप, इन आसान तरीकों से घर पर करें मिलावटी दूध की पहचान

दूध जो हमारी सेहत के लिए काफी अच्छा होता है.इससे हमें ना केवल कैल्शियम मिलता है, बल्कि जरूरी पोषक तत्व भी मिलते हैं.

-

होमलाइफस्टाइलSynthetic milk: सफेद जहर तो नहीं पी रहे आप, इन आसान तरीकों से घर पर करें मिलावटी दूध की पहचान

Synthetic milk: सफेद जहर तो नहीं पी रहे आप, इन आसान तरीकों से घर पर करें मिलावटी दूध की पहचान

Published Date :

Follow Us On :

Synthetic milk: दूध जो हमारी सेहत के लिए काफी अच्छा होता है.इससे हमें ना केवल कैल्शियम मिलता है, बल्कि जरूरी पोषक तत्व भी मिलते हैं.डॉक्टर्स बच्चों को दूध पिलाने की सलाह देते हैं.जिससे उनकी हड्डियां मजबूत हों.बुजुर्गों,जवानों और बच्चों सभी को दूध पीने की सलाह दी जाती है.लेकिन जिस दूध को आप पी रहे हैं, क्या वो असली है.दरअसल मिलावटी दूध का खेल नया नहीं है.बल्कि सालों से मिलावाटी दूध का गोरखधंधा फलता फूलता आ रहा है.

ऐसे में इस बात पर चिंता करनी चाहिए कि, जिस दूध को आप पी रहे हैं, क्या वो सौ प्रतिशत शुद्ध है.इसलिए आज ये आर्टिकल हम आपके लिए लेकर आए हैं.जिसके जरिए आप असली नकली दूध(Synthetic milk) की पहचान घर पर ही कर सकें.तो चलिए जानते हैं कैसे मिलावटी दूध की पहचान करें.

Synthetic milk(Image source-Google)
Synthetic milk(Image source-Google)

कैसे करें पहचान ?

जमीन करेगी टेस्ट

मिलावटी दूध चेक करने का ये तरीका सबसे आसान है.दूध की मिलावट को चेक करने के लिए आप दूध की कुछ बूंदे जमीन पर डालें.अगर ये बूंद धीरे धीरे बहने लगे और एक सफेद निशान पीछे छोड़ती जाए तो समझिए ये दूध असली है.अगर ये मिलावटी दूध होता तो ये तुरंत बह जाएगा.मिलावटी दूध चेक करने का ये तरीका सबसे आसान है.दूध की मिलावट को चेक करने के लिए आप दूध की कुछ बूंदे जमीन पर डालें.अगर ये बूंद धीरे धीरे बहने लगे और एक सफेद निशान पीछे छोड़ती जाए तो समझिए ये दूध असली है.अगर ये मिलावटी दूध होता तो ये तुरंत बह जाएगा.

लिटमस टेस्ट करें

मिलावटी दूध का पता लगाने का ये तरीका सबसे सटीक है.इसके लिए बस आपको लिटमस पेपर खरीदना होगा.जो आपको आसानी से मार्केट में मिल जाएगा.इस लिटमस पेपर पर आप दूध की कुछ बूंदें डालें.अगर इसमें मिलावट होगी तो इसका रंग लाल से नीला हो जाएगा.अगर मिलावट नहीं होगी तो पेपर का रंग नहीं बदलेगा.

स्टार्च आयोडीन टेस्ट

ये टेस्ट भी आपको बिल्कुल सटीक परिणाम देगा.इस टेस्ट के लिए आप दूध उबालकर ठंडा करें.ठंडा होने पर इस दूध में 1 प्रतिशत आयोडीन घोल की बूंद डालें.अगर ये नीले रंग की दिखने लगें तो समझिए इसमें स्टार्च मिला हुआ है.ये टेस्ट भी आपको बिल्कुल सटीक परिणाम देगा.इस टेस्ट के लिए आप दूध उबालकर ठंडा करें.ठंडा होने पर इस दूध में 1 प्रतिशत आयोडीन घोल की बूंद डालें.अगर ये नीले रंग की दिखने लगें तो समझिए इसमें स्टार्च मिला हुआ है.

Synthetic milk(Image source-Google)
Synthetic milk(Image source-Google)

कैसे बनता है नकली दूध ?

वैसे तो दूध को सूंघकर भी इसके असली और नकली की पहचान की जा सकती है.अगर दूध नकली है तो इसमें आपको डिटर्जेंट,साबुन की महक आएगी.दरअसल नकली दूध हाइड्रोजन पैराक्साइड, माल्टोडेक्सट्रिन पाउडर, रिफाइंड ऑयल और डिटर्जेंट जैसे केमिकल से बनता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं.

ये भी पढ़ें: रोज नहाने से कमजोर होती है आपकी इम्युनिटी, होते हैं भयंकर नुकसान ,जानें

Parul Tiwari Shukla
Parul Tiwari Shuklahttps://bloggistan.com
पारुल तिवारी शुक्ला Bloggistan में कंटेंट राइटर हैं. पारुल को ज़ी मीडिया समेत कई संस्थानों में काम करने का 12 साल का अनुभव है.वो अलग अलग चैनलों में रनडाउन प्रोड्यूसर के साथ कई शो की जिम्मेदारी लंबे समय तक संभाल चुकी हैं.इनकी पॉलिटिक्स, स्पोर्ट्स, हेल्थ, लाइफस्टाइल, एंटरटेनमेंट विषयों पर अच्छी पकड़ है. वो लाइफस्टाइल और सियासी जगत से जुड़ी कई बेहतरीन स्टोरी कर चुकी हैं. मूल रूप से यूपी के उन्नाव की रहने वाली पारुल ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से 2008 में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा किया है.

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

Maruti Suzuki Baleno : महज 11 हजार में घर ले जाएं ये क्यूट कार, मिलते हैं जबरदस्त पावरट्रेन

Maruti Suzuki Baleno : भारतीय मार्केट में मारुति सुजुकी...

Benefits basil leaves:रोजाना तुलसी के सेवन से, इन बीमारियों से मिलेंगी छुटकारा

Benefits basil leaves: तुलसी औषधीय गुणों से भरपूर होती...

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you