लाइफस्टाइलकहीं आप भी तो नहीं खाते ज्यादा Antibiotics ?...

कहीं आप भी तो नहीं खाते ज्यादा Antibiotics ? हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, जानें

क्या आप भी उनमें से हैं जो जरा जरा सी बात पर एंटीबॉयोटिक्स लेते हैं.तो ये खबर आपके लिए है.

-

होमलाइफस्टाइलकहीं आप भी तो नहीं खाते ज्यादा Antibiotics ? हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, जानें

कहीं आप भी तो नहीं खाते ज्यादा Antibiotics ? हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, जानें

Published Date :

Follow Us On :

Antibiotics: क्या आप भी उनमें से हैं जो जरा जरा सी बात पर एंटीबॉयोटिक्स लेते हैं.तो ये खबर आपके लिए है.एक स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है कि, जो लोग 40 की उम्र का पड़ाव पार कर चुके हैं उन्हें एंटीबॉयोटिक्स लेने पर गंभीर यानी जानलेवा बीमारी तक हो सकती हैं.इन्हें खाने से आपकी आंतों से जुड़ी कई जानलेवा बीमारियों का खतरा है.अगर आप जरूरत से ज्यादा एंटीबॉयोटिक्स का सेवन करते हैं तो आपके लिए ये खतरे की घंटी है.

Too much antibiotics dangerous(Image source-Google)
Too much antibiotics is dangerous(Image source-Google)

क्या कहती है रिसर्च ?

  • एक रिसर्च में ये पता चला है कि 40 की उम्र के बाद एंटीबॉयोटिक(Antibiotics) दवाएं खाने से IBD यानी इन्फ्लेमेटरी बाउल डिजीज का खतरा 48 फीसदी तक बढ़ जाता है.ये रिसर्च ब्रिटिश सोसाइटी ऑफ गैस्ट्रोएन्टरालजी के मेडिकल जर्नल गट BMJ Gut Journal में पब्लिश की गई है.
  • इसके मुताबिक, एक से दो साल तक पेट या आंतों के संक्रमण के इलाज में एंटीबॉयोटिक दवाएं लेने के बाद ये खतरा बढ़ जाता है.
  • शोधकर्ताओं ने 10 से 60 साल की उम्र के करीब 61 लाख लोगों के हेल्थ डेटा का 18 साल तक विश्लेषण किया.
  • इसके जरिये पता चला कि जिन लोगों ने लगातार एंटीबॉयोटिक दवाओं का इस्तेमाल किया. उनमें IBD का खतरा उन लोगों की तुलना में काफी ज्यादा बढ़ गया था, जिन्होंने एंटीबॉयोटिक दवाएं नहीं ली थीं.
  • एंटीबॉयोटिक खाने वाले लोगों में 36,017 में अल्सरेटिव कोलाइटिस और 16,881 में क्रोहन डिजीज के लक्षण पाए गए.
  • जिन लोगों को एंटीबॉयोटिक दवाएं नहीं दी गईं, उन लोगों की तुलना में एंटीबॉयोटिक खाने वाले 10 से 40 साल के लोगों में IBD की आशंका 40 फीसदी ज्यादा पाई गई.वहीं, 40 से 60 साल के लोगों में IBD का जोखिम 48 फीसदी ज्यादा पाया गया.
  • स्टडी में ये भी सामने आया कि 1 से 2 साल तक एंटीबॉयोटिक लेते रहने के बाद IBD का जोखिम सबसे ऊंचे लेवल परनोलोन से था
  • इन एंटीबॉयोटिक का ज्यादातर इस्तेमाल आंतों के संक्रमण के इलाज में होता है.स्टडी में पाया गया कि, नाइट्रोफ्यूरेंटोइन एकमात्र ऐसी एंटीबॉयोटिक दवा थी, जिससे IBD का खतरा नहीं बढ़ा.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं.

ये भी पढ़ें : Health Tips: सोते समय पहनते हैं स्वेटर, तो आज ही करें बदं, क्योंकि हो सकती हैं गंभीर बीमारिया,जानें कैसे

Parul Tiwari Shukla
Parul Tiwari Shuklahttps://bloggistan.com
पारुल तिवारी शुक्ला Bloggistan में कंटेंट राइटर हैं. पारुल को ज़ी मीडिया समेत कई संस्थानों में काम करने का 12 साल का अनुभव है.वो अलग अलग चैनलों में रनडाउन प्रोड्यूसर के साथ कई शो की जिम्मेदारी लंबे समय तक संभाल चुकी हैं.इनकी पॉलिटिक्स, स्पोर्ट्स, हेल्थ, लाइफस्टाइल, एंटरटेनमेंट विषयों पर अच्छी पकड़ है. वो लाइफस्टाइल और सियासी जगत से जुड़ी कई बेहतरीन स्टोरी कर चुकी हैं. मूल रूप से यूपी के उन्नाव की रहने वाली पारुल ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से 2008 में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा किया है.

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

Controversy:नवाजुद्दीन सिद्दीकी पर उनकी पत्नी ने लगाएं गंभीर आरोप, विडियो शेयर कर बताई आपबीती

Controversy: बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin) और उनकी पत्नी...

BJP के इन 10 सांसदों ने दिया सांसदी से इस्तीफा, जानें कारण

BJP MP Resign: मध्य प्रदेश और राजस्थान में सांसदों...

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you