लाइफस्टाइलTouching feet: क्या है बड़े बुजुर्गों के पैर छूने के...

Touching feet: क्या है बड़े बुजुर्गों के पैर छूने के पीछे का साइंस, जानें

किसी भी काम की शुरुआत करनी हो तो सबसे पहले हम बड़े बुजर्गों के आशीर्वाद से ही उसकी शुरुआत करते हैं.

-

होमलाइफस्टाइलTouching feet: क्या है बड़े बुजुर्गों के पैर छूने के पीछे का साइंस, जानें

Touching feet: क्या है बड़े बुजुर्गों के पैर छूने के पीछे का साइंस, जानें

Published Date :

Follow Us On :

Touching feet: किसी भी काम की शुरुआत करनी हो तो सबसे पहले हम बड़े बुजर्गों के आशीर्वाद से ही उसकी शुरुआत करते हैं. सनातन धर्म में पैर छूने की परंपरा बनाई गई है.  फिर चाहे वो घर से निकलना हो, किसी काम की शुरुआत, हर शुभ काम की शुरुआत हम बड़े बुजर्गों के पैर छू कर(Touching feet of Elders) ही करते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा आखिर ऐसा क्यों होता है. कैसे ये पैर छूने की रस्म बनी जो सदियों से चली आ रही है.लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऋषि-मुनियों द्वारा बनाई गई इस परंपरा के पीछे दरअसल साइंस छिपा हुआ है.

Touching feet of Elders
Touching feet of Elders

Touching feet: होती है शारीरिक कसरत

जब भी हम बड़े बुजुर्गों के पैर छूते हैं तो आगे की ओर झुकते हैं. इससे हमारे सिर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है.जो हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है.इससे हमारे शरीर की कसरत भी होती है.

पैर छूने(Touching feet) से मिलती है पॉजिटिव एनर्जी

जब भी आप किसी के पैर छूते हैं तो आपके मन में विनम्रता का भाव आता है.जब हम किसी बड़े बुजुर्ग के पैर छूते हैं तो आशीर्वाद के तौर पर उनका हाथ हमारे सिर पर होता है. ऐसे में पॉजिटिव एनर्जी का प्रवाह हमारे शरीर में होता है. पैर छूकर आशीर्वाद लेने से आयु, यश और बल की बढ़ोतरी होती है.

 शरीर को कई फायदे

अगर साइंस के दृष्टिकोण से देखा जाए तो पैर छूने से आपके कमर दर्द, जोड़ों के दर्द और पैर दर्द में भी आराम मिलता है.जब आप पैर छूने से लिए झुकते हैं तो आपके पैर और कमर दोनों ही मुड़ते हैं. जिससे आपकी एक्सरसाइज भी होती है. इससे आपका शरीर फिट और फाइन रहता है.

बढ़ती है इच्छा शक्ति

बड़े बुजुर्गों के पैर छूने से हमारी विल पावर बढ़ती है. इसे मनोविज्ञान के नजरिए से देखा जाए तो जब भी हम किसी कामना को पूरा करने के लिए बड़े बुजुर्गों से आशीर्वाद लेते हैं. तो इसका सीधा मतलब ये होता है कि हम उस ख्वाहिश को पूरा करने के लिए अपनी पूरी इच्छा शक्ति उसमें लगा देंगे. इससे आपके आत्मविश्वास को बल मिलता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं.

ये भी पढ़ें:Black tomatoes Benefits: कैंसर और हार्टअटैक से पाना है निजात, तो आज से खाएं काला टमाटर

Parul Tiwari Shukla
Parul Tiwari Shuklahttps://bloggistan.com
पारुल तिवारी शुक्ला Bloggistan में कंटेंट राइटर हैं. पारुल को ज़ी मीडिया समेत कई संस्थानों में काम करने का 12 साल का अनुभव है.वो अलग अलग चैनलों में रनडाउन प्रोड्यूसर के साथ कई शो की जिम्मेदारी लंबे समय तक संभाल चुकी हैं.इनकी पॉलिटिक्स, स्पोर्ट्स, हेल्थ, लाइफस्टाइल, एंटरटेनमेंट विषयों पर अच्छी पकड़ है. वो लाइफस्टाइल और सियासी जगत से जुड़ी कई बेहतरीन स्टोरी कर चुकी हैं. मूल रूप से यूपी के उन्नाव की रहने वाली पारुल ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से 2008 में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा किया है.

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

Electric Shawl:ठंड के टॉर्चर से बचाएगी ये इलेक्ट्रिक शॉल, हैवी जैकेट को कहिए टाटा, पढ़ें

ElectricShawl: पूरे उत्तर भारत में हड्डियां गला देने वाली...

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you