भारतIndian Railway: आखिर ट्रेन के बीच में ही क्यों...

Indian Railway: आखिर ट्रेन के बीच में ही क्यों लगे होते है AC Coach? जानिये इसके पीछे का रोचक कारण

Indian Railway:यकीनन आपने कभी ना कभी INDIANRAILWAY में सफर तो जरूर किया होगा सफर के लिए जब भी आप अपनी ट्रेन पकड़ने रेलवे स्टेशन पर जाते है तब आपने बहुत सी ट्रेनों के आवागमन को देखा ही होगा

-

होमभारतIndian Railway: आखिर ट्रेन के बीच में ही क्यों लगे होते है AC Coach? जानिये इसके पीछे का रोचक कारण

Indian Railway: आखिर ट्रेन के बीच में ही क्यों लगे होते है AC Coach? जानिये इसके पीछे का रोचक कारण

Published Date :

Follow Us On :

Indian Railway:आपने कभी ना कभी INDIANRAILWAY में सफर तो जरूर किया होगा सफर के लिए जब भी आप अपनी ट्रेन पकड़ने रेलवे स्टेशन पर जाते है तब आपने बहुत सी ट्रेनों के आवागमन को देखा ही होगा साथ ही आपने ट्रेन को प्लेटफॉर्म पर लगते हुए भी देखा होगा. उस दौरान अगर आपने गौर किया हो तो आपके मन में यह जिज्ञासा तो उठी ही होगी कि आखिरकार भारतीय रेल में AC Coach के डिब्बों को बीचो बीच में ही क्यों लगाया जाता है इसके पीछे बेहद खास वजह है.

Indian Railway
Indian Railway

ट्रेन में एसी कोच (AC Coach in train)


ट्रेन में सफर के लिए जब हम रेलवे स्टेशन पर अपनी गाङी का इंतजार कर रहे होते हैं तब ट्रेन के ठहराव की स्थिति में अगर हम गौर करें तो अक्सर हम ट्रेनों में लगे AC Coach को ट्रेन के बीचों बीच ही पाते हैं इसके पीछे का मकसद रेलवे द्वारा यात्रियों को उचित सुविधा प्रदान करना है सामान्य ट्रेन में कोचो का क्रम एक जैसा ही होता है सबसे पहले इंजन फिर जनरल कोच इसके बाद उसे कुछ स्लीपर कोच और फिर ट्रेन के बीचो-बीच एसी कोच और उसके बाद फिर उसी क्रम में वापस स्लिपर के बाद जनरल कोच और सबसे आखरी में होता है गार्ड रूम| गौरतलब यह है कि आखिरकार एसी कोच ट्रेन के बिल्कुल बीच में ही क्यों होते हैं तो आइए आपको बताते हैं इसके पीछे का राज:

यात्रियों की भीड़ का बैलेंस बनाने के लिेए (To balance the passenger rush)

जानकारी के अनुसार ट्रेन के बीच में अपर क्लास कोच और लेडीज कंपार्टमेंट होने के कारण स्टेशन पर मौजूद यात्रियों की भीड़ का बैलेंस बनाना होता है क्योंकि ट्रेन में अनारक्षित टिकट लेकर यात्रा करने वाले यात्रियों का एक बड़ा समुदाय होता है जिसके लिए ट्रेन में सबसे आगे और पीछे की ओर जनरल बोगियों का प्रावधान रखा गया है सामान्य सी बात है कि यदि स्टेशन पर मौजूद भीड़ सबसे आगे और पीछे की ओर बढ़ जाएगी तो अन्य यात्रियों को कोई परेशानी नहीं होगी.


निकास को सुगम बनाने के लिए (To facilitate exit)


भारतीय रेलवे में स्टेशन की बनावट प्रायः कुछ इस प्रकार होती है कि निकास द्वार स्टेशन के बीचो बीच में ही होता है ऐसे में ऐसी सफर करने वाले यात्री भीड़ से बचकर कम समय में स्टेेशन से एग्जिट कर जाते हैं जबकि प्लेटफार्म के दोनों सिरों पर या सामान्य कोचों की भीड़ बंट जाती है.


एक्सपेंसिव कोच के यात्रियों का रखा जाता है खास ध्यान (Special attention is given to the passengers of the expensive coach)


चूकिं एयर कंडीशन कोच में यात्रा करने वाले यात्री तुलनात्मक रूप से अधिक किराया देते हैं इसलिए अन्य यात्री को तुलना में उनकी सुविधा का विशेष ध्यान रखना होता है साइड में जनरल बोगी और बीच में ऐसी कोच होने से यात्रियों की भीड़ बंट जाती है जिससे अपर क्लास व लेडीज कंपार्टमेंट का सफर शुगम हो जाता है.


यह भी पढ़ें : Honda Activa 7G: जल्द ही घरेलू बाजार में होंडा एक्टिवा की होगी नई मॉडल लॉन्च, दिखी पहली झलक

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

Smartphone Tips: स्मार्टफोन से डिलीट हो गए हैं फोटो और विडियो,तो इस तरह होंगे रिकवर

Smartphone Tips: एंड्रायड स्मार्टफोन यूजर्स अक्सर अपने डिवाइस में...

Gold Silver Price Today: सोने-चांदी में आया उछाल,जानें आज कितना महंगा हुआ सोना

Gold Silver Price Today: देश से हमेशा से सोने-चांदी...

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you