बिजनेसDelhi Government scheme: अब अस्पतालों में बनेंगे नवजात बच्चों...

Delhi Government scheme: अब अस्पतालों में बनेंगे नवजात बच्चों के आधार कार्ड, साथ मिलेगा ये शानदार उपहार, पढ़ें पूरी ख़बर

-

होमबिजनेसDelhi Government scheme: अब अस्पतालों में बनेंगे नवजात बच्चों के आधार कार्ड, साथ मिलेगा ये शानदार उपहार, पढ़ें पूरी ख़बर

Delhi Government scheme: अब अस्पतालों में बनेंगे नवजात बच्चों के आधार कार्ड, साथ मिलेगा ये शानदार उपहार, पढ़ें पूरी ख़बर

Published Date :

Follow Us On :

Delhi Government scheme: नवजात बच्चियों के लिए दिल्ली सरकार ने एक खास योजना का ऐलान कर दिया है . जी हां अब पश्चिमी दिल्ली के सरकारी अस्पताल में पैदा हुई नवजात बच्ची के जन्म लेने पर माता-पिता को दोगुनी खुशी देते हुए बच्चियों को उनके जन्म प्रमाण पत्र, आधार कार्ड और बैंक खाते के खोलकर घर भेजेगा. इसके साथ माता को बच्ची के पैरों के निशान और एक फोटो भी अस्पताल देगा.

सभी कागजात एक बार में मिलेंगे

नन्ही परी पहल (little angel initiative) का उद्देश्य माता-पिता को सभी जरूरी कागजात एक ही बार में उन्हें प्रदान करवाना है. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि बच्चे के जन्म से संबंधी किसी भी कागजात के लिए माता-पिता को बार-बार सरकारी विभागों के चक्कर ना लगाने पड़े. इसलिए हम इस योजना को सरकारी अस्पतालों में शुरू कर रहे है.

संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल से होगी शुरुआत

आपको बता दें कि सरकार की यह योजना फिलहाल के लिए संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में शुरू की गई है. आने वाले अगले हफ्ते में जिले के तीन अन्य अस्पताल भगवान महावीर अस्पताल, बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल और दीपचंद बंधु अस्पताल में इस योजना को शुरू कर दिया जाएगा. एक रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में सबसे अधिक बच्चों का जन्म बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल में होता है. यह हर रोज लगभग 50 से 60 बच्चे जन्म लेते है.

Delhi Government scheme
Delhi Government scheme

अस्पताल में हेल्प डेस्क की स्थापना

माता-पिता को बच्ची के जन्म से संबंधी सभी कागजात समय पर उपलब्ध हो इसके लिए विभाग ने अस्पतालों में हेल्प डेस्क बनवाएं है. इस हेल्पडेस्क (helpdesk) में एमसीडी, बैंक और आधार इकाइयों के अधिकारियों द्वारा देखरेख होगी. जो यह सुनिश्चित करेंगे कि बच्ची के जन्म के बाद उसे छुट्टी मिलने पर उसके पास सभी कागजात हो.

इसके अलावा अधिकारियों ने यह भी कहा कि अगर किसी कारणवश बच्ची की छुट्टी जल्दी हो जाती है. तो माता-पिता कुछ दिनों के अंदर दोबारा अस्पताल आकर सभी कागजात (All documents of the child) ले जा सकते है.

ये भी पढ़ें : LIC का ये धांसू प्लान मात्र 4 साल में बना देगा करोड़पति,तुरंत पढ़ें पूरी डिटेल

Dushyant Raghav
Dushyant Raghavhttps://bloggistan.com
दुष्यंत राघव bloggistaN में बतौर Chief Sub Editor कार्यरत हैं. इन्होंने विभिन्न मीडिया संस्थानों में अपनी सेवाएं दी हैं. दुष्यंत ने अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय से की है.

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you