ऑटोMG motor: एमजी मोटर बना 25 हजार से ज्यादा...

MG motor: एमजी मोटर बना 25 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स का मसीहा, ‘एमजी नर्चर प्रोग्राम’ के तहत सिखाएगा स्किल,पढ़ें डिटेल

MG motor

-

होमऑटोMG motor: एमजी मोटर बना 25 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स का मसीहा, ‘एमजी नर्चर प्रोग्राम’ के तहत सिखाएगा स्किल,पढ़ें डिटेल

MG motor: एमजी मोटर बना 25 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स का मसीहा, ‘एमजी नर्चर प्रोग्राम’ के तहत सिखाएगा स्किल,पढ़ें डिटेल

Published Date :

Follow Us On :

MG motor: एक तरफ देश में जहां गरीबी और बेरोजगारी ने कमर तोड़ दिया है.साथ ही युवाओं से भी कई अवसर छीन लिया है. आज पढ़े-लिखे युवा बेरोजगार हैं. इन्ही परेशानी को देखते हुए एमजी मोटर इंडिया (MG Motor India) ने छात्रों के हक में बड़ा ऐलान किया है. इस ऐलान से कई स्टूडेंट्स को रोजगार के अवसर मिलेंगे, अब हजारों बच्चे बेरोजगार नहीं रहेंगे.

MG motor
MG Nurture program Credit Twitter

एमजी मोटर(MG Motor) ने चार वर्षों में 25,000 से अधिक स्टूडेंट्स के कौशल को बढ़ाने के लिए अपने छात्र सशक्तिकरण कार्यक्रम एमजी नर्चर(MG Nurture)के हिस्से के रूप में आज 22 कॉलेजों के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किया है. एमजी नर्चर कार्यक्रम(MG Nurture Program) के तहत, कार निर्माता भारत भर के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों और आईटीआई में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) और स्वायत्त और कनेक्टेड वाहनों पर व्यावहारिक और अनुभव पूर्ण प्रशिक्षण के माध्यम से छात्रों को भविष्य को नई दिशा देने के लिए कौशल प्रदान करेंगे.

छात्रों के कौशल को किया जायेगा विकाश

एमजी मोटर के अनुसार, सभी तकनीकी संस्थानों के साथ मिलकर समग्र कौशल विकास कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा, जिसमें छात्रों को उनके सॉफ्ट स्किल्स को निखारने में मदद करने के लिए कैंपस टू कॉर्पोरेट प्रोग्राम भी शामिल होगा. इसमें छात्रों को इंटर्नशिप और मेंटरशिप के अवसर दिए जायेंगे.साथ ही ऐसे कई सारे पाठ्यक्रम शुरू किए जायेंगे जिससे छात्रों का विकास नवीनतम रुझानों के साथ किया जायेगा.

छात्र ऑप्शनल विषय का चुनाव कर सकते हैं

एमजी नर्चर प्रोग्राम के हिस्से के रूप में, आईटीआई और डिप्लोमा के छात्र(किसी भी सेक्टर में) 2023 में कनेक्टेड और स्वायत्त वाहनों और ईवीएस में एक ऐड-ऑन या एक ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव कर सकेंगे. यह इंजीनियरिंग छात्रों के लिए, 6th और 7th सेमेस्टर में दिए जाते हैं जबकि ITI/डिप्लोमा कोर्स के छात्रों के लिए, यह सुविधा चौथे और 5वें सेमेस्टर में दिया जाता है.

इसका उद्देश्य भविष्य में युवाओं को कुशल बनाना

  • एमजी मोटर इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, राजीव चाबा ने कहा, जो छात्र इस पहल में भाग लेते हैं, वे उतना ही खुद का विकास कर पाएंगे और भारत के ऑटोमोबाइल सेक्टर में महत्वपूर्ण योगदानकर्ताओं के रूप में उभरेंगे.
  • छात्रों को उनकी रोजगार क्षमता बढ़ाने और आवश्यक कौशल प्रदान करने के लिए एमजी 2020 से ही इस फील्ड के विद्वानों के साथ काम कर रहा है. साथ ही कंपनी ने 79 शहरों में 200 छात्रों के लिए एक पेड इंटर्नशिप प्रोग्राम भी शुरू किया जिसे ऑल इंडिया लेवल पर इन छात्रों को प्रशिक्षण दिया जायेगा.
  • कार निर्माता छात्रों को वाहनों का प्रशिक्षण देने के लिए पूरे भारत के कॉलेजों में 13 से अधिक कनेक्टेड कार/ईवी भी प्रदान किए है. इसने इलेक्ट्रिक और स्वायत्त वाहनों के क्षेत्र में एक शोध कार्यक्रम के लिए IIT दिल्ली और IIT सोनीपत के साथ भी करार किया है.

ये भी पढ़ेंSUV XUV400 Launch: Tata Nexon EV का खेल हुआ खत्म, महिंद्रा ने लॉन्च की सबसे सस्ती पहली एसयूवी इलेक्ट्रिक कार, सिंगल चार्ज में 456KM दौड़ेगी

Komal Singh
Komal Singhhttps://bloggistan.com
कोमल कुमारी Bloggistan में कंटेंट राइटर है. लीची के शहर मुजफ्फरपुर से आई है। अभी माखनलाल चतुर्वेदी विश्विद्यालय में अध्यन जारी है। पत्रकारिता के क्षेत्र में कुछ नया सीखने और अनुभव लेने का शिलशिला जारी है। खासतौर पर ऑटो पर अच्छी रूचि है। लिखने पढ़ने की शौकीन हैI हर वक्त नए नए चैलेंज लेने में दिलचस्पी रखती है।

Latest news

- Advertisement -spot_imgspot_img

Must read

अन्य खबरेंRELATED
Recommended to you